Latest

तुम्ही को भूलना सबसे ज़रूरी है समझता हूँ Best Of Kumar Vishwas

बस्ती बस्ती घोर उदासी पर्वत पर्वत खालीपन
मन हीरा बेमोल बिक गया घिस घिस रीता तन चंदन
इस धरती से उस अम्बर तक दो ही चीज़ गज़ब की है
एक तो तेरा भोलापन है एक मेरा दीवानापन 

Basti Basti Ghor Udasi PArvat Parvat Khalipan
Man Heera Bemol Bik Gya Ghis Ghis Reeta Tan Chandan
Is Dharati Se US Ambar Tak Do Hi Cheez Gazab Ki Hai
Ek To Tera Bholapan Hai Ek Mera Deewanapan

जिसकी धुन पर दुनिया नाचे, दिल एक ऐसा इक तारा है,
जो हमको भी प्यारा है और, जो तुमको भी प्यारा है.
झूम रही है सारी दुनिया, जबकि हमारे गीतों पर,
तब कहती हो प्यार हुआ है, क्या अहसान तुम्हारा है

Jiski Dhun PAr Duniya Nache Dil Aisa Ek Tara Hai
Jo Hamako Bhi Pyara Hai Aur Jo Tumko Bhi Pyara Hai
Jhum Rahi Hai Saari Duniya Jabki Hamare Geeton Par
Tab Kahati Ho Pyar Hua Hai Kya Ehasan Tumhara Hai


जो धरती से अम्बर जोड़े, उसका नाम मोहब्बत है ,
जो शीशे से पत्थर तोड़े, उसका नाम मोहब्बत है ,
कतरा कतरा सागर तक तो,जाती है हर उमर मगर ,
बहता दरिया वापस मोड़े, उसका नाम मोहब्बत है


Jo Dharati Se Ambar Jodein Uska Naam Mohabbat Hai
Jo Sheeshe Se PAthar Todein USka Naam Mohabbat Hai
Katara Katara Sagar Tak Jaati Hai Ek Umar Magar
Bahata Dariya Wapas Modein Uska Naam Mohabbat Hai



तुम्हारे पास हूँ लेकिन जो दूरी है समझता हूँ
तुम्हारे बिन मेरी हस्ती अधूरी है समझता हूँ
तुम्हे मैं भूल जाऊँगा ये मुमकिन है नहीं लेकिन
तुम्ही को भूलना सबसे ज़रूरी है समझता हूँ



Tumhare Pas Hu Lekinb Jo Duri Hai Samajhata Hu
Tumhare Bin Meri Hasti Adhuri Hai Samajhata Hu
tumhe Mai Bhul Jaunga Ye Mumkin Hai Nahin Lekin
Tumhi Ko Bhulana Sabase Jaruri Hai Samajhata Hu


बहुत टूटा बहुत बिखरा थपेड़े सह नहीं पाया
हवाओं के इशारों पर मगर मैं बह नहीं पाया
रहा है अनसुना और अनकहा ही प्यार का किस्सा
कभी तुम सुन नहीं पायी कभी मैं कह नहीं पाया



Bahut Tuta Bahut Bikhara Thapede Sah Nahi Paya
Hawao Ke Isharo Par Magar Main Bah Nahin Paya
Raha Hai Ansuna Aur Ankahan Hi Payar Ka Kissa
AKbhi Tum Sun Nahin PAyi Kabhi Mai Kah Nahin Paya

No comments