Latest

अमृत जैसे जल को दूषित कर रही है लोनी MIDC की सुदर्शन जींस कंपनी , ग्रामसभा को जल ट्रीटमेंट करके जमीन में डालने का दबाव बनाना होगा

हम सभी को पता है कि जल इस सृष्टि पर अमृत के समान है जिसके बिना कोई भी जीवित नहीं रह सकता इसीलिए कहा जाता है कि जल ही जीवन है.

इस धरती पर जल एक अनमोल खजाने की तरह है लेकिन जैसे-जैसे औद्योगिक क्षेत्रों को बढ़ावा दिया जा रहा है कंपनियां सृष्टि के इस अनमोल खजाने से खिलवाड़ कर रही है. इसी क्रम में महाराष्ट्र के पुणे जिले के लोणी देवकर MIDC में स्थित कंपनी सुदर्शन जींस प्राइवेट लिमिटेड है जो प्रकृति के अनमोल खजाने को दूषित करने पर तुली है.

सुदर्शन जींस कंपनी लोनी MIDC में कपड़े से जुड़ी सामग्रियां बनाती है जिसके रंगाई के बाद बच्चे सारे कलर केमिकल को जमीन के नीचे डाल देती है.

जिससे कि इलाके का पानी दूषित हो गया है और कंपनी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रही है अब वक्त आ गया है कि ग्राम सभा कंपनी पर यह दबाव बनाए कि वह अपने दूषित केमिकल और जल को जमीन के अंदर ट्रीटमेंट करने के बाद ही डालें.

अगर ऐसा नहीं होता है तो पूरा ग्रामसभा इसकी चपेट में आएगा और एक ऐसा क्षेत्र जहां पानी की किल्लत हमेशा रही है और ज्यादा बढ़ जाएगी.

महाराष्ट्र का अधिकतर इलाका सूखाग्रस्त रहता है जिसकी वजह से अभी तक हजारों किसानो ने आत्महत्या की यह  इलाके में जलस्तर कुछ अच्छा ही है जिससे किसानों की फसल अच्छी हो जाती है.

लेकिन अगर इस पर ध्यान नहीं दिया गया तो सब कुछ बदल जाएगा, हजारों जिंदगी अब प्रभावित होंगी.

No comments